Indian Railway News: रेलवे की इन फ्री सेवाओं के बारे में नहीं होगा आपको पता! जानें और उठाएं फायदा

Indian Railways News: रेलवे की कई ऐसी सर्विस होती हैं जो फ्री होती हैं और बहुत कम लोगों ही इससे परिचित होते हैं. कौन सी हैं वो सेवाएं, इसके बारे में हम आपको बताते हैं.

 
Indian Railways, free service, indian railways booking, irctc, indian railways pnr, railway enquiry, indian railways recruitment, railway station, railway reservation, railway enquiry, railway, indian railways free services, भारतीय रेलवे, रेलवे, रेल, रेलवे पूछताछ, रेलवे की फ्री सेवा

Indian Railway Free Services: भारतीय रेल को देश की लाइफलाइन कहा जाता है. भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा नेटवर्क है, जो पूरे देश में 1.2 लाख किलोमीटर से अधिक फैला हुआ है. कश्मीर हो या कन्याकुमारी, लोग अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए रेलवे का ही सहारा लेना पसंद करते हैं. रेलवे की कई ऐसी सर्विस भी होती हैं जो फ्री होती हैं और बहुत कम लोगों ही इससे परिचित होते हैं. कौन सी हैं वो सेवाएं, इसके बारे में हम आपको बताते हैं. 

यात्रियों को ये सुविधा देता है रेलवे

टिकट की बुकिंग के दौरान रेलवे यात्रियों को क्लास अपग्रडेशन की सुविधा देता है. यानी स्लीपर के यात्री को उसी किराए पर थर्ड एसी, और थर्ड एसी के यात्री को सेकंड एसी, और सेंकड एसी के यात्री को फर्स्ट एसी की सुविधा मिल सकती है. यह सुविधा पाने के लिए यात्रियों को टिकट बुकिंग के दौरान ऑटो अपग्रेड के ऑप्शन पर क्लिक करना होता है. उसके बाद उपलब्धता के आधार पर रेलवे टिकट अपग्रेड करता है. हालांकि यह जरूरी नहीं है कि टिकट हर बार अपग्रेड हो जाए. 

इसी तरह वेटिंग लिस्ट यात्रियों को दूसरी ट्रेन में सीट उपलब्धता के आधार पर रेलवे यात्रा का मौका देती है. इसके लिए रेलवे ने विकल्प सेवा शुरू की है. जो यात्री कंफर्म टिकट नहीं ले पा रहे हैं, वह दूसरी ट्रेन में सीट पाने के लिए विकल्प का चयन कर सकते हैं. इसके लिए टिकट बुकिंग के समय 'विकल्प' का चयन करना होता है. उसके बाद रेलवे इस सुविधा को प्रदान करता है. 

टिकट को ट्रांसफर करने का भी ऑप्शन

रेलवे टिकट ट्रांसफर करने का भी विकल्प देता है. अगर कोई व्यक्ति किसी वजह से यात्रा नहीं कर पाता है तो वह अपने परिवार के किसी सदस्य के नाम पर टिकट ट्रांसफर कर सकता है. हालांकि टिकट ट्रांसफर यात्रा के दिन के 24 घंटे से पहले ही किया जा सकता है. 

इसके तहत माता,पिता, बहन, बेटा, बेटी, पति और पत्नी के नाम पर ही टिकट ट्रांसफर किया जा सकता है.  इसके लिए टिकट का प्रिंट लेकर नजदीकी रेलवे स्टेशन जाना होगा. जहां पर टिकटधारक की आईडी प्रूफ के जरिए टिकट ट्रांसफर हो सकता है. हालांकि एक बार ही टिकट को ट्रांसफर किया जा सकता है. 

टिकट ट्रांसफर की तरह बोर्डिंग स्टेशन बदलने की  सुविधा भी 24  घंटे पहले तक मिलती है. यानी किसी यात्री ने अगर दिल्ली से टिकट बुक कराया है और वह उस ट्रेन रूट पर किसी और स्टेशन से बोर्डिंग करना चाहता है तो वह अपना स्टेशन बदल सकता है. 

बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव ऑनलाइन किया जा सकता है. आईआरसीटीसी की वेबसाइट या ऐप को लॉग इन करने के बाद बुक टिकट हिस्ट्री में जाकर बोर्डिंग स्टेशन में बदलाव कर सकते हैं. हालांकि बदलाव की सुविधा केवल एक बार ही मिलती है।और एक बार स्टेशन बदलने के बाद, पहले बुक किए स्टेशन के राइट खत्म हो जाते हैं.