India Trade Fair :ट्रेड फेयर में कल से शुरू होगा छत्तीसगढ़ बिजनेस समिट, देश भर के कारोबारी होंगे शामिल
नई दिल्ली के प्रगति मैदान में इंडिया इंटरनेशनल ट्रेड फेयर चल रहा है. यहां केंद्र सरकार के अलग-अलग मंत्रालयों और राज्य सरकारों के अपने पवेलियन मौजूद हैं. यहां छत्तीसगढ़ बिजनेस समिट 2022 का भी आयोजन 22 नवंबर 2022 को किया जा रहा है.
 
India Trade Fair :ट्रेड फेयर में कल से शुरू होगा छत्तीसगढ़ बिजनेस समिट, देश भर के कारोबारी होंगे शामिल

India Trade Fair :नई दिल्ली के प्रगति मैदान में इंडिया इंटरनेशनल ट्रेड फेयर चल रहा है. यहां केंद्र सरकार के अलग-अलग मंत्रालयों और राज्य सरकारों के अपने पवेलियन मौजूद हैं. यहां छत्तीसगढ़ बिजनेस समिट 2022 का भी आयोजन 22 नवंबर 2022 को किया जा रहा है. इस समिट में देश के विभिन्न हिस्सों से उद्यमी, निर्यातक और कारोबारी शामिल होंगे. छत्तीसगढ़ के उद्योग मंत्री कवासी लखमा इस आयोजन में छत्तीसगढ़ में औद्योगिक संभावनाओं की जानकारी देने के साथ ही उन्हें निवेश के लिए प्रोत्साहित करेंगे.


राज्य में निवेश बढ़ाना मकसद
उद्योग मंत्री लखमा के साथ इस बिजनेस सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के उद्योग से जुड़े विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों की टीम भी जा रही है. यह टीम इलेक्ट्रॉनिक्स, लघु वनोपज और हस्तशिल्प और हथकरघा आदि क्षेत्रों के कारोबारियों, उद्यमियों और निर्यातकों को छत्तीसगढ़ में उद्योग, व्यापार की संभावनाओं के साथ-साथ निवेश के लिए भी आमंत्रित करेगी.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में उद्योग और व्यापार को बढ़ावा देने के लिए हर संभव कोशिश किए जा रहे हैं. उद्यमियों के लिए कई तरह की रियायत और सुविधाएं दी जा रही हैं. हाल ही में ही छत्तीसगढ़ ने इज ऑफ डूईंग में लंबी छलांग लगाई है. इज ऑफ डूईंग में छत्तीसगढ़ देश के टॉप राज्यों में शामिल है. उद्योगों की स्थापना की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए सिंगल विंडो प्रणाली लागू की गई है.

राज्य में बनाए जा रहे हैं औद्योगिक पार्क
छत्तीसगढ़ की नई उद्योग नीति में कृषि और वनोपज से जुड़े उद्योगों को खास प्राथमिकता दी जा रही है. छत्तीसगढ़ की नई राजधानी में इलेक्ट्रॉनिक उद्योगों की स्थापना के लिए इलेक्ट्रॉनिक और मैन्युफैक्चरिंग कॉम्पेक्स बनाया जा रहा है. इसी तरह विभिन्न औद्योगिक पार्क भी विकसित किए जा रहे हैं. कोर सेक्टर के उद्योगों की स्थापना के लिए उद्यमियों को निवेश के लिए आमंत्रित किया जा रहा है. राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए जमीन, बिजली और निर्यात के लिए प्रोत्साहन सहित कई तरह की छूट और रियायतें दी जा रही हैं.

दिल्ली का यह अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला 14 नवंबर से शुरू हो चुका है. और यह 27 नवंबर तक चलेगा. इस मेले को आयोजित करने वाली संस्था इंडियन ट्रेड प्रोमोशन ऑर्गेनाइजेशन (ITPO) के मुताबिक, व्यापार मेले की टिकट दिल्ली के 65 मेट्रो स्टेशन पर मिल सकेगी. साल 2020 में यह मेला नहीं लग पाया था क्योंकि कोविड के चलते कई पाबंदियां थी. इस बार पूरी तैयारी और 2019 की तुलना में ज्यादा क्षेत्रफल में इसका आयोजन होने जा रहा है.