PNB ग्राहक ध्यान दें! बढ़ गये हैं ये अहम चार्जेस, फटाफट चेक करें पूरी डिटेल
अगर आप पंजाब नेशनल बैंक यानी पीएनबी (PNB) के ग्राहक हैं तो आपके लिए बेहद जरूरी खबर है। बैंक ने NEFT (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर), RTGS (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) समेत शुल्क में बढ़ोतरी की है।
 
Punjab National Bank,  PNB,  NACH E-Mandate,  Reserve Bank of India,  NEFT,  Real Time Gross Settlement,  RTGS,  PNB Bank, Business News In Hindi, Business News,पंजाब नेशनल बैंक, पीएनबी,  एनएसीएच ई-मैंडेट, भारतीय रिजर्व बैंक, एनईएफटी, रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट, आटीजीएस, पीएनबी बैंक,Hindi News, News in Hindi, Hindustan, हिन्दुस्तान

PNB hike RTGS-NEFT charges: अगर आप पंजाब नेशनल बैंक यानी पीएनबी (PNB) के ग्राहक हैं तो आपके लिए बेहद जरूरी खबर है। बैंक ने NEFT (नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर), RTGS (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) समेत शुल्क में बढ़ोतरी की है। यह बढ़ोतरी 20 मई, 2022 से प्रभावी हैं। PNB ने नैशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (एनएसीएच) ई-मैनडेट चार्जेज को भी रिवाइज्ड किया है।

RTGS

RTGS (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) एक ऐसा सिस्टम है, जिससे ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। NEFT के विपरीत RTGS के तहत फंड ट्रांसफर के निर्देश व्यक्तिगत रूप से ऑर्डर के आधार पर किए जाते हैं और उसी समय पैसा ट्रान्सफर हो जाता है।

अब तक, RTGS भारत में फंड ट्रांसफर का सबसे तेज़ और सबसे सुरक्षित इंस्ट्रूमेंट है। ऑफलाइन लेनदेन के लिए RTGS का शुल्क 24.50 रुपये और ऑनलाइन लेनदेन के लिए 24 रुपये कर दिया गया है।

इससे पहले ब्रांच लेवल पर लेनदेन में ऑफलाइन के लिए आरटीजीएस के लिए शुल्क 20 रुपये था। 5 लाख और उससे अधिक राशि के लिए आरटीजीएस शुल्क बढ़ाकर 49.50 रुपये कर दिया गया है, जो पहले 40 रुपये था। इसके अलावा इसी राशि के लिए ऑनलाइन शुल्क 49 रुपये कर दिया गया है।

NEFT

भारतीय रिजर्व बैंक राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) सिस्टम का मालिक है और उसका संचालन करता है। नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर के जरिए एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर होते हैं।

कोई भी बैंक यूजर NEFT का फायदा उठाने के लिए अपने बैंक द्वारा दी जाने वाली इंटरनेट या मोबाइल बैंकिंग की सुविधा का उपयोग भी कर सकता है। इसके लिए बेनेफिशियरी की डिटेल्स जैसे कि उसका नाम, बैंक ब्रांच का नाम, अकाउंट नंबर, IFSC कोड, अकाउंट टाइप आदि दर्ज करना होता है। ऑफलाइन मैथड के जरिए भी आप NEFT की सुविधा का फायदा उठा सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी बैंक ब्रांच विजिट करना होगा।

PNB की वेबसाइट के अनुसार, "ऑनलाइन शुरू किए गए एनईएफटी फंड ट्रांसफर के लिए सेविंग्स अकाउंट होल्डर्स से कोई शुल्क नहीं लिया जाता है।" एनईएफटी शुल्क बचत खातों और पीएनबी के बाहर होने वाले लेनदेन के अलावा अन्य पर लागू होते हैं।

10,000 रुपये तक लेनेदेन पर एनईएफटी शुल्क को बढ़ाकर 2.25 रुपये कर दिया गया है। पहले इसका शुल्क 2 रुपये लिया जाता था। वहीं, ऑनलाइन शुल्क लेनदेन पर 1.75 रुपये शुल्क किया गया है।

10,000/- रुपये से अधिक और 1 लाख रुपये तक की लेनदेन राशि के लिए ब्रांच लेवल पर लेनदेन के लिए शुल्क 4 रुपये से बढ़ाकर 4.75 रुपये कर दिया गया है। ऑनलाइन लेनदेन के लिए शुल्क 4.25 रुपये निर्धारित किया गया है।

1 लाख रुपये से अधिक और 2 लाख रुपये तक के शुल्क 14 रुपये से बढ़ाकर 14.75 रुपये और ऑनलाइन लेनदेन के लिए 14.25 रुपये निर्धारित किए गए हैं। 2 लाख रुपये से अधिक के लेनदेन के लिए 2 रुपये से बढ़ाकर 24.75 रुपये कर दिया गया है।

NACH ई-मैंडेंट (ऑनलाइन जनादेश)

बैंक ने अप्रूवल पर इनवार्ड एनएसीएच ई-मैंडेट वेरिफिकेशन शुल्क को 100 रुपये प्रति मैंडेट संशोधित किया है। यह दर लागू जीएसटी से अलग है। यह दरें 28-05-2022 से प्रभावी हैं।