1583X262px
हरियाणा

7 बच्चों के पिता 67 वर्ष के शख्स संग की 19 साल की लड़की ने लव मैरिज, हाईकोर्ट में मांगी सुरक्षा

अपने कई अजब-गजब जोड़ियां देखी होंगी, लेकिन हरियाणा की बाप-बेटी की उम्र की जोड़ी बहुत चौंकाने वाली है। दरअसल पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में एक बेमेल जोड़ी पहुंची। जिसमें लड़की की उम्र 19 साल और युवक की उम्र 67 साल है।

दोनों पहले प्यार में पड़े और फिर दोनों ने निकाह कर लिया। लेकिन अब ये बेमेल जोड़ी पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट पहुंची। और सुरक्षा की गुहार लगाई। प्रेमी जोड़े ने बताया कि उन्हें अपने परिवार से जान का खतरा है। इस बेमेल जोड़ी को देखकर हाई कोर्ट के जज भी हैरान हो गए।

हाई कोर्ट ने यह जोड़ी बहुत बेमेल लगी तो उन्होंने तुरंत जांच के आदेश जारी किए। जांच में पता चला कि लड़की खेत में काम करने वाली बुजुर्ग के प्यार में पड़ गई। जब लड़की के परिवार को पता चला तो उन्‍होंने इसका विरोध किया।

परिवार के खिलाफ जाकर लड़की प्रेमी के साथ रहने लगी और दोनों ने निकाह कर लिया। अब दोनों को परिवार से जान को खतरा बता की हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में दोनों ने कहा कि वह दोनों विवाह कर एक साथ रहते हैं, लेकिन उनको परिजनों से जान को खतरा है।

याचिका के बाद हाई कोर्ट ने उनकी सुरक्षा के आदेश जारी किए। लेकिन हाई कोर्ट के जस्टिस जेएस पूरी को दोनों पर शक हुआ। जज ने कहा कि कैसे एक 19 साल की लड़की 67 साल के पुरुष से विवाह कर सकती है। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में कई चीज स्पष्ट नहीं है।

हाई कोर्ट ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पलवल के एसपी को आदेश जारी किया कि एक टीम का गठन करें जिसमें महिला पुलिसकर्मी भी शामिल हों। जो लड़की की सुरक्षा करेगी। और युवक के बारे में भी पूरी जांच-पड़ताल करें।

पुलिस उपअधीक्षक (डीएसपी) रतनदीप बाली ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि हथीन के गांव हुंचपुरी निवासी 67 वर्षीय बुजुर्ग व्यक्ति ने नूंह जिले के एक गांव की 19 वर्षीय लड़की से शादी की है।

जोड़े ने पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि हमें लड़की के परिजनों से जान का खतरा है। उन्होंने कहा कि हमें हाइकोर्ट से आदेश प्राप्त हुआ है कि मामले की जांच की जाए और दोनों को सुरक्षा प्रदान की जाए। साथ ही यह भी पता लगाया जाए कि किन परिस्थितियों में यह शादी हुई है।

बाली ने बताया कि प्रेम विवाह करने वाले बुजुर्ग और लड़की दोनों पहले से शादीशुदा हैं। बुजुर्ग व्यक्ति को सात बच्चे हैं जो सभी शादीशुदा हैं। उसकी पत्नी की चार वर्ष पहले मौत हो गई थी।

वहीं, विवाह करने वाली लड़की भी पहले से शादीशुदा है और उसे कोई बच्चा नहीं है। डीएसपी ने बताया कि लड़की के परिजनों का गांव में जमीनी विवाद था और प्रेम विवाह करने वाला बुजुर्ग व्यक्ति इनकी मदद करने जाता था। इस दौरान इन दोनों (बुजुर्ग व्यक्ति और लड़की) के बीच संपर्क हुआ।

लड़की को इलाका मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर उसके बयान दर्ज करवाए जाएं व उसके बाद एसपी हाई कोर्ट में इस बाबत विस्तृत जवाब दायर करें। हाई कोर्ट ने एसपी को एक सप्ताह के भीतर यह पूरी जांच करने का भी निर्देश दिया है।

दोनों ने हाई कोर्ट में जो आधार कार्ड जमा किए उसमें पुरूष की जन्मतिथि 1 जनवरी 1953 है जबकि लड़की की 10 दिसम्बर 2001 है। हाई कोर्ट में दी जनकारी के अनुसार पुरुष खेती का काम करता है और 15,000 रूपये प्रतिमाह कमाता है। लडकी के परिवार वाले इस निकाह के खिलाफ थे।

युवती और उसके प्रेमी ने याचिका में कहा है कि दोनों पति-पत्‍नी है। लड़की का कहना है कि उसके परिवार वालों की सत्ता और पुलिस तक अच्छी पकड़ है और वे उनको जान से मार देंगे। दोनों ने हाई कोर्ट में अपने निकाह का प्रमाण पत्र भी पेश किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top